Polytechnic Kya Hai? Full Details in Hindi

जब हम सभी स्कूल में पढ़ाई कर रहे होते हैं, तब हम सभी के मन में एक सवाल जरूर आता है, कि आगे चलकर हमें क्या करना है जिससे हमारी जिंदगी बेहतर बन जाए, और इसी सब के साथ आपकी फैमिली, आपके दोस्त और आपके आस पड़ोस के लोग आपको तरहतरह की एडवाइज देते हैं, कि आपको IIT कर लेनी चाहिए,

आपको ITI कर लेनी चाहिए या फिर आपको Polytechnic कर लेनी चाहिए तो यहां पर हम आपसे इसी विषय में पॉलिटेक्निक के ऊपर बात करने वाले हैंPolytechnic Kya Hai?

Polytechnic Kya Hai

जैसा कि आप जानते हैं पिछले टॉपिक पर हमने ITI के बारे में बात की थी, क्या होता है ITI? लेकिन आज हम पॉलिटेक्निक  को कवर करेंगे कि Polytechnic Kya Hai? और इसे करने के बाद हमें क्या करना चाहिए? पॉलिटेक्निक करने से में क्या-क्या फायदे होते हैं?

जैसा कि आप जानते हैं कि 10th पास करने के बाद हम सभी के मन में बड़ी टेंशन होती है कि हाईस्कूल के बाद हम क्या करेंगे आगे मुझे क्या करना चाहिए, ऐसे में कुछ लोगों को तो गाइडेंस मिल जाती है लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जिन्हें सही गाइडेंस नहीं मिल पाती है और अगर आपको सही गाइडेंस नहीं मिलती है, तो आपके लिए आगे चलकर थोड़ी मुसीबत वाली बात हो सकती है। 

अगर आप भी सोचते हैं कि हाई स्कूल के बाद आपको कोई कोर्स करना है जिसके बाद आपको अच्छी जॉब मिल जाए तो यह पोस्ट आपके लिए तो बड़ी ही काम की होने वाली है क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि Polytechnic Kya Hai? और इसे करने के बाद हमें क्या करना चाहिए? पॉलिटेक्निक से में क्या-क्या फायदे होते हैं?

जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे मन में पॉलिटेक्निक का नाम सुनते ही बहुत सारे सवाल आने लगते हैं कि आखिर Polytechnic Kya Hai? पॉलिटेक्निक कोर्स में क्या-क्या पढ़ाया जाता है? क्या-क्या योग्यता चाहिए इस कोर्स को करने के लिए? इसके बारे में पूरी संपूर्ण जानकारी आज हम आपको देने वाले हैं। 

पहले तो मैं आपको बता देता हूँ पॉलिटेक्निक एक बहुत ही पॉपुलर डिप्लोमा है इसे करने के बाद, आपकी जिस भी फील्ड में आपकी रुचि है या इंटरेस्ट है उस फील्ड में आप पढ़ाई करके आगे जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं, मैं आपको एक बात बता दूं कि अगर आप पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपको इसके लिए कुछ योग्यता होनी चाहिए। 

पॉलिटेक्निक? (Polytechnic Kya Hai?)

Polytechnic Kya Hai? पॉलिटेक्निक एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स होता है, जिसे आप हाईस्कूल या इंटरमीडिएट पास करने के बाद कर सकते हैं, इस कोर्स को करने के बाद आप किसी भी फील्ड में चाहे वह मैकेनिकल इंजीनियरिंग हो या फिर सिविल इंजीनियरिंग हो, कोई भी इंजीनियर डिप्लोमा करना चाहते हो तो आप पॉलिटेक्निक के लिए अप्लाई कर सकते हैं। 

पॉलिटेक्निक 3 साल का होता है और सबसे अच्छी बात यह है कि आप पालिटेक्नीक करने के बाद डायरेक्टली Btech 2nd year के लिए एडमिशन ले सकते हैं, यानी कि अगर आपने मकेनिकल इंजीनियरिंग में पॉलिटेक्निक से डिप्लोमा किया हुआ है, और अगर आप डिग्री पाना चाहते हैं तो आप डायरेक्टली Btech 2nd year में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के लिए एडमिशन ले सकते हैं। 

इस कोर्स में और भी बहुत सारे ब्रांच होते हैं जो आप अपनी रूचि के अनुसार चुन सकते हैं, इसको अप्लाई करने के लिए आपको कॉमन एंट्रेंस टेस्ट देना होता है जिसे सीईटी (CET) कहते हैं।  

इस एग्जाम को आपको पास करना होता है अगर आप गवर्नमेंट कॉलेज से पॉलिटेक्निक करना चाहते हैं तो आपको CET में अच्छी रैंक लाना बहुत जरूरी है, उसके बाद ही आपको एक अच्छा पॉलिटेक्निक कॉलेज मिलेगा अन्यथा आपको किसी प्राइवेट कॉलेज में दाखिला लेना पड़ेगा, जिसकी फीस सरकारी कॉलेज की अपेक्षा ज्यादा हो सकती है। 

गवर्नमेंट कॉलेज के अपेक्षा प्राइवेट कॉलेज की फीस कई गुना ज्यादा होती है इसलिए आपको अच्छी रैंक लानी पड़ेगी ताकि आप गवर्नमेंट कॉलेज के लिए अप्लाई कर सके। 

पॉलिटेक्निक का मतलब क्या होता है?

पॉलीटेक्निक दो शब्दों से मिलकर बना होता है (Poly +Technic) Poly का मतलब होता है बहुत सारी और Technic का मतलब होता है कलाएं यानी कि एक ऐसा संगम जहां पर आपको बहुत सारी कलाएं सिखाई जाती हैं। 

आपको ऐसी चीजों के लिए तैयार किया जाता है कि जिस फील्ड में आपकी रूचि हो आप उस क्षेत्र में जॉब कर सके और अपना करियर बना सके। (Polytechnic Kya Hai?)

पॉलिटेक्निक के लिए क्या-क्या योग्यताएं होनी चाहिए?

कैंडिडेट 10 वीं या 12 वीं पास होना चाहिए, और पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेने के लिए कम से कम आप के 35% मार्क्स होने चाहिए जिनमें Science, Maths & English यह तीनों सब्जेक्ट होना बहुत जरूरी है। 

पॉलिटेक्निक कोर्स करने के फायदे?

पॉलिटेक्निक आप सीधा 10वीं या 12वीं पास होने के बाद तुरंत कर सकते हैं, पॉलिटेक्निक में आपको प्रैक्टिकल तरीके से सिखाया जाता है यानी कि बहुत ही कम थ्योरी होती हैं और प्रैक्टिकल पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है ताकि आप आगे जाकर क्षेत्र में अच्छा कार्य कर सकें पॉलिटेक्निक कोर्स करने के बाद आप जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं पॉलिटेक्निक के बाद आप सीधा ही बीटेक के सेकंड ईयर में एडमिशन ले सकते हैं। 

पॉलिटेक्निक में कौन-कौन से कोर्स होते हैं?

  1. Architectural assistantship
  2. Art for drawing teacher
  3. Mobile engineering
  4. Cosmetology and health 2 years
  5. Cal engineering
  6. Civil engineering
  7. Civil engineering construction technology
  8. Civil engineering public health and environment engineering (Girls)
  9. Applied art only for girls
  10. Computer engineering
  11. Electrical engineering
  12. Electronics and communication engineering
  13. Electronics engineering digital electronics
  14. Electronics engineering medical electronics
  15. Fashion design only for girls
  16. Garment fabrication technology
  17. Information technology-enabled services and management
  18. Instrumentation and control
  19. Interior design only for girls
  20. Library and information science only for girls two years
  21. Mechanical engineering
  22. Mechanical engineering maintenance engineering
  23. Medical laboratory technology

यह सभी Courses आपको पॉलिटेक्निक में देखने को मिल जाते हैं। 

पॉलिटेक्निक कैसे किया जाए?

(1) अगर आपको पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेना है तो सबसे पहले आपको 10th पास करना होगा, कोशिश करिए कि Maths, Science और English में आपके मार्क्स अच्छे होने चाहिए, क्योंकि यह ऐसे सब्जेक्ट होते हैं इन्हीं सब्जेक्ट में से आपको ज्यादातर प्रश्न पूछे जाते हैं यहां पूछे जाने वाले सवाल ऑब्जेक्टिव होते हैं यानी कि आपको 4 उत्तर दिए जाते हैं इनमें से आपको एक सही उत्तर का जवाब देना होता है

(2) आप 12वीं पास होने के बाद भी पॉलिटेक्निक के लिए अप्लाई कर सकते हैं और आप चाहे तो IIT पास करने के बाद भी पॉलिटेक्निक के लिए अप्लाई कर सकते हैं लेकिन अगर आप 10th के बाद अप्लाई करते हैं तो यह आपके लिए बेस्ट होगा। 

(3) पॉलिटेक्निक एंट्रेंस टेस्ट दें और अच्छा रैंक लेकर आएं – इसके लिए आपको पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम टेस्ट का फॉर्म भरना पड़ेगा जिसे सीईटी कहा जाता है (कॉमन एंट्रेंस टेस्ट), हर स्टेट के हिसाब से अलग एग्जाम होते हैं इसीलिए कोशिश करें कि एग्जाम में आपका मार्क्स अच्छे आने चाहिए, ताकि आपको बेस्ट गवर्नमेंट कॉलेज मिल सके, अगर आपको गवर्मेंट कॉलेज मिलता है जिसमें आपको कम फीस देनी होगी और साथ ही साथ आपका प्लेसमेंट अच्छी जगह हो जाता है जिससे आपको अच्छी जॉब मिल जाती है। 

(4) उसके बाद आप काउंसलिंग के लिए अप्लाई करें और कॉलेज चुनिए – एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लेने के बाद आपको काउंसलिंग करनी होती है, इसमें आपको यह देखना होता है कि आप कौन कौन सा कॉलेज चाहिए और यह पूरा प्रोसेस ऑनलाइन होता है,
आपको आपकी रैंक के अनुसार कॉलेज दिए जाते हैं। 

(5) पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम क्लियर आप ने कर लिया आपको अच्छा स्कूल मिल गया उसके बाद पॉलिटेक्निक की पढ़ाई को आप पूरा करेंगे आप शुरू में जैसे स्कूल जाते थे कॉलेज जाते थे वैसे ही आपको रोज पॉलिटेक्निक कॉलेज में जाना होगा और पढ़ाई करनी होगी, और एग्जाम देना होगा यहां पर भी आपको वही बात ध्यान रखनी है कि एग्जाम में आपको अच्छे मार्क्स लेकर आने हैं ताकि आपको आगे अच्छा प्लेसमेंट मिल सके। 

(6) इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें – पॉलिटेक्निक की पढ़ाई पूरी करने के बाद बहुत सारी कंपनी है जो पॉलिटेक्निक कॉलेज में जॉब ऑफर करने के लिए आती हैं, ऐसे में अगर आपने इंटरव्यू crack कर लिया अगर आपने अच्छे से पढ़ाई की है आपकी अच्छी रैंक हैं, तो आप आसानी से राउंड क्लियर कर देंगे और आपको जॉब मिल जाएगी। 

अगर आप चाहें तो डायरेक्टली बीटेक के सेकंड ईयर में एडमिशन ले सकते है, अपनी आगे की पढ़ाई कर सकते हैं बहुत से लोग कंफ्यूज होते हैं कि पॉलिटेक्निक के बाद हमें क्या करना चाहिए आप चाहें तो पॉलिटेक्निक के बाद इंजीनियरिंग डिग्री के लिए जा सकते हैं, इसके लिए आपको डायरेक्टली सेकंड ईयर में एडमिशन लेना होगा। 

मुझे उम्मीद है अगली बार जब भी आप पॉलिटेक्निक का नाम सुनेंगे तो आपके मन में ऐसे सवाल नहीं उठेंगे क्योंकि आप को पहले से ही हर सवाल का जवाब पता होगा
आप अच्छी तरह से डिसाइड कर पाएंगे कि आपको आगे क्या करना है आपको पॉलिटेक्निक करनी चाहिए या फिर नहीं करनी चाहिए अगर करनी चाहिए तो आपको किस ब्रांच से करनी चाहिए। 

मुझे उम्मीद है आपको Polytechnic Kya Hai? यह ब्लॉक पोस्ट जरूर पसंद आया होगा अगर आपको पसंद आया है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं ताकि वह भी इस कंटेंट को पढ़कर अपनी प्रॉब्लम का हल निकाल सके। 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *